GK On Electricity and Magnetism Physics |विद्युत धारा के चुंबकीय प्रभाव Part-21

GK TEST Physics

हम जानते हैं कि विद्युत धारावाही तार चुंबक की भॉंति व्‍यवहार करता है। कभी-कभी आपने अनुभव किया होगा कि सुई भी विक्षेपित हो जाती है। इस तरह से विद्युत और चुंबकत्‍व एक- दूसरे से संबंधित है। वैद्युत चुंबकत्‍व को एक अंग्रेज वैज्ञान‍िक हैंस क्रिश्‍चियन ऑर्स्‍टेड ने समझाया था। आज के इस पोस्‍ट GK On Electricity and Magnetism में हम इसी से संबंधित प्रश्‍न और उसके उत्‍तर लाये हैं जो हर परीक्षा के लिए महत्‍वपूर्ण हैं।

GK On Electricity and Magnetism Physics

1. चुंबकिय क्षेत्र किसे कहते हैं।
उत्‍तर- किसी चुंबक के चारों ओर का वह क्षेत्र जिसमें उसके बल का संसूचन किया जा सकता है, उस चुंबक का चुंबकिय क्षेत्र कहलाता है।

GK On Electricity and Magnetism
2. चुंबकिय क्षेत्र रेखायें चुंबक में कहां से प्रवेश करती है।
उत्‍तर- चुंबकीय क्षेत्र रेखाएं चुंबक के उत्‍तर ध्रुव से प्रकट होती है तथा दक्षिणी ध्रुव पर समाप्‍त हो जाती है। चुंबक के भीतर चुंबकीय क्षेत्र रेखाओं की दिशा उसके दक्षिण ध्रुव से उत्‍तर ध्रुव की ओर होती है। अत: चुंबकीय क्षेत्र रेखाएं एक बंद वक्र होती है।

3. स्थायी चुम्बकन किस स्थिति में किया जा सकता है ?
उत्‍तर- इस्‍पात

4. अस्‍थायी चुंबक बनाये जाते हैं।
उत्‍तर- नर्म लोहे के

GK On Electricity and Magnetism
5. यदि एक चुम्बक को दो भागों में विभक्त कर दिया जाए तो…
उत्‍तर- उसके दोनो भाग अलग अलग चुंबक बन जाते हैं।

6. किसी चुम्बक की आकर्षण शक्ति सबसे अधिक कहाँ होती है।
उत्‍तर- दोनो किनारो पर

7. चुम्बकीय क्षेत्र का मात्रक होता है
उत्‍तर- गौस

8. चुम्बकीय फ्लक्स का मात्रक है
उत्‍तर- वेबर

9. 1 डोमेन (Domain) में परमाणुओं की संख्या होती है –
उत्‍तर- 10¹⁸ से 10²¹

GK Questions Answers On Electricity Physics |विद्युत Part-20
Light Reflection and Refraction GK Physics |प्रकाश Part-19
General Knowledge Questions on Human Eye Physics Part-18

10. मुख्य रूप से निलम्बित चुम्बकीय सुई किस दिशा में टिकती है
उत्‍तर- उत्‍तर दक्षिण दिशा में

11. चुम्बकीय याम्योतर और भौगोलिक याम्योतर के बीच के कोण को कहते है-
उत्‍तर- चुम्‍बकीय दिक्‍पात।

12. ध्रुव पर नमन कोण का मान कितना होता है
उत्‍तर- 90°

GK On Electricity and Magnetism
13. फ्लेमिंग के बाएं हाथ का नियम दिशा बताते है-
उत्‍तर- विद्युत चालक में बल की दिशा जब चालक चुम्बकीय क्षेत्र में है

14. विद्युत चुम्बकीय प्रेरण के नियमों का उपयोग निम्न में से किसको बनाने में उपयोग किया गया है
उत्‍तर- जनरेटर (जनित्र)

15. डाइनेमो का कार्य सिद्धांत ………. से सम्बन्धित है?
उत्‍तर- यह यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलता है।

16. विद्युत मोटर निम्न सिद्धांत के अनुसार कार्य करती है
उत्‍तर- फैराडे के नियम पर

17. ट्रांसफोर्मर के क्रोड बनाए के लिय निम्नलिखित पदार्थों में से कौन सा अधिक उपयुक्त होता है
उत्‍तर- नर्म लोहे का

GK On Electricity and Magnetism
18. ट्रांसफार्मर का सिद्धांत आधारित है।
उत्‍तर- विद्युत चुम्‍बकीय प्रेरण के

19. ट्रांसफ़ॉर्मर क्या है।
उत्‍तर- AC वोल्टता को घटाने और बढ़ाने में प्रयुक्त होता है।

20. लेन्ज का नियम आधारित है।
उत्‍तर- ऊर्जा संरक्षण पर

21. एकसमान चुम्बकीय क्षेत्र में बल रेखाएं होनी चाहिए…
उत्‍तर- एक-दूसरे के समांतर

22. चुम्बकीय क्षेत्र का मात्रक होता है ?
उत्‍तर- टेसला

GK On Electricity and Magnetism
23. परिनालिका किसे कहते हैं।
उत्‍तर- पास-पास लिपटे विद्युतरोधी तॉंबे के तार की बेलन की आकृति की अनेक फेरों वाली कुंडली को परिनालिका कहते हैं। परिनालिका के भीतर एकसमान चुंबकीय क्षेत्र होता है।

24. किसी चालक पर आरोपित बल की दिशा किस पर निर्भर करती है।
उत्‍तर- विद्युत धारा की दिशा और चुंबकीय क्षेत्र की दिशा दोनो पर निर्भर करती है।

25. प्रत्‍यावर्ती धारा(AC) किसे कहते हैं।
उत्‍तर- ऐसी धारा जो समय के साथ-साथ अपनी दिशा में परिवर्तन करती है प्रत्‍यावर्ती धारा(AC) कहलाती है।

26. भारत में कितने आवृत्ति की प्रत्‍यावर्ती धारा को प्रवाहित किया जाता है।
उत्‍तर- 50 हर्ट्ज

Some Other Facts of Magnetism

GK On Electricity and Magnetism
मानव शरीर के दो मुख्‍य भाग जिनमें चुंबकीय क्षेत्र का उत्‍पन्‍न होना महत्‍वपूर्ण है, वे हृदय तथा मस्तिष्‍क हैं।
विद्युत मोटर एक ऐसी घूर्णन युक्ति है जिसमें विद्युत ऊर्जा का यांत्रिक ऊर्जा में रूपांतरण होता है।
व्‍यावसायिक मोटरों में 1. स्‍थायी चुंबको के स्‍थान पर विद्युत चुंबक प्रयोग किए जाते हैं 2. विद्युत धारावाही कुंडली में फेरों की संख्‍या अत्‍यधिक होती है 3. कुंडली नर्म लौह-क्रोड पर लपेटी जाती है।
वह नर्म लौह-क्रोड जिस पर कुंडली को लपेटा जाता है तथा कुंडली दोनों मिलकर आर्मेचर कहलाते हैं।
गैल्‍वनोमीटर एक ऐसा उपकरण है जो किसी परिपथ में विद्युत धारा की उपस्थिति संसूचित करता है।

GK Quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *