light reflaction and refraction

Light Reflection and Refraction GK Physics |प्रकाश Part-19

GK TEST Physics

प्रकाश एक प्रकार की ऊर्जा है जो विद्युत चुम्‍बकीय तरंगों के रूप में कार्य करती है। विद्युत चुम्‍बकीय तरंग के कारण इसे अनुप्रस्‍थ तरंग भी कहते हैं। प्रकाश की चाल सर्वाधिक निर्वात में होती है। इसकी चाल 3×〖10〗^8 मी प्रति सेकंड होती है। हम इस Light Reflection and Refraction GK Physics पोस्‍ट में प्रकाश से संबंधित सामान्‍य ज्ञान लाये हैं।

Light Reflection and Refraction GK

1. प्रकाश के वेग की गणना सबसे पहले किसने की थी।
उत्‍तर- रोमर ने।

2. गोलीय दर्पण किसे कहते हैं।
उत्‍तर- ऐसे दर्पण जिनका परावर्तक पृष्‍ठ गोलीय है, गोलीय दर्पण कहलाते हैं।

3. अवतल दर्पण और उत्‍तल दर्पण क्‍या है।
उत्‍तर- गोलीय दर्पण जिसका परावर्तक पृष्‍ठ अंदर की ओर अर्थात गोले के केंद्र की ओर वक्रित है, वह अवतल दर्पण कहलाता है। और वह गोलीय दर्पण जिसका परावर्तक पृष्‍ठ बाहर की ओर वक्रित है, उत्‍तल दर्पण कहलाता है।

4. गोलीय दर्पण की वक्रता त्रिज्‍या R तथा फोकस दूरी f के बीच क्‍या संबंध है।
उत्‍तर- छोटे द्वारक के गोलीय दर्पणों के लिए वक्रता त्रिज्‍या फोकस दूरी से दोगुनी होती है। इसे R=2f द्वारा व्‍यक्‍त करते हैं।

5. अवतल दर्पण द्वारा बिंब की विभिन्‍न स्थितियों के लिए प्रतिबिंब का वर्णन करें।
उत्‍तर- नीचे दिए गए इमेज में इसका वर्णन है।

Light Reflection and Refraction GK
Concave Mirror

6. अवतल दर्पण का उपयोग क्‍या है।
उत्‍तर- टॉर्च, सर्चलाइट तथा वाहनों के हेडलाइट्स में । इन्‍हें प्राय: चेहरे का बड़ा प्रतिबिंब देखने के लिए शेविंग मिरर के रूप में उपयोग करते हैं। दांत के डाक्‍टर दांतों का बड़ा प्रतिबिंब देखने के लिए इसका उपयोग करते हैं।

Light Reflection and Refraction GK
7. उत्‍तल दर्पण द्वारा बने प्रतिबिंब की प्रकृति, स्थिति तथा साइज का वर्णन करें।
उत्‍तर- नीचे दिए गए इमेज में इसका वर्णन है।

Light Reflection and Refraction GK
Convex Mirror

8. उत्‍तल दर्पण का प्रयोग कहां किया जाता है।
उत्‍तर- इसका उपयोग वाहनों के साइड मिरर में किया जाता है।

9. दर्पण का सूत्र बतायें।
उत्‍तर- 1/v+1/u=1/f

Light Reflection and Refraction GK Physics

General Knowledge Test 30
FRICTION SOUND SAMANYA VIGYAN| सामान्‍य विज्ञान पार्ट-4
FIRST IN INDIA | भारत में सर्वप्रथम , कौन और कब
What is Meteoroids (उल्‍कापिंड क्‍या है)
तनाव मुक्‍त कैसे रहें (YOGA FOR STRESS FREE)

10. आवर्धन क्‍या होता है।
उत्‍तर- गोलीय दर्पण द्वारा उत्‍पन्‍न आवर्धन वह विस्‍तार है जिससे ज्ञात होता है कि कोई प्रतिबिंब बिंब की अपेक्षा कितना गुना बड़ा है। आवर्धन को m से दिखाया जाता है। इसका सूत्र है-
m= प्रतिबिंब की ऊंचाई/ वस्‍तु की ऊंचाई
m = h/h’ = – v/u
जहां v प्रतिबिंब की दूरी तथा u वस्‍तु की दूरी है।

11. प्रकाश का परावर्तन क्‍या होता है।
उत्‍तर- जब कोई प्रकाश की किरण किसी एक माध्यम से दूसरे माध्यम में प्रवेश करती है तो परावर्तक पृष्ठ से टकराकर वापस उसी माध्यम में लौट जाती है। इस घटना को प्रकाश का परावर्तन कहते है। Example- जल की तरंगों, ध्वनि, प्रकाश तथा अन्य विद्युतचुम्बकीय तरंगों का परावर्तन

12. प्रकाश का अपवर्तन क्‍या है।
उत्‍तर- जब प्रकाश की किरण एक माध्‍यम से दूसरे माध्‍यम में जाती हैं तो यह अपने मार्ग से विचलीत हो जाती है। प्रकाश का अपने मार्ग से विच‍लीत हो जाना ही अपवर्तन कहलाता है। यह सिर्फ पारदर्शी पदार्थों से होता है। जैसे- शीशा, वायु जल आदि।

13. अपवर्तन का उदाहरण दीजिये।
उत्‍तर- पानी में सिक्‍के का ऊपर उठा दिखना, तारों का टिमटिमाना, पानी में डूबी छड़ टेढ़ी दिखना, सूर्य का 2 मिनट पहले उदय होना और 2 मिनट बाद अस्‍त होन पर दिखाई देना आदि।

14. प्रकाश अपवर्तन का नियम क्‍या है।
उत्‍तर- इसके दो नियम है।
1. आपतित किरण, अपवर्तित किरण तथा आपतन बिन्‍दु पर अभिलंब तीनों एक ही तल में होते हैं।2. इनके आपतन कोण की ज्‍या तथा अपवर्तन कोण की ज्‍या का अनुपात सदैव एक स्थिरांक होता है। sini/sinr= constant


15. परावर्तित प्रकाश में ऊर्जा—-
उत्‍तर- आपतन कोण पर निर्भर नही करती है।

Light Reflection and Refraction GK
16. प्रकाश का पूर्ण आंतरिक परावर्तन क्‍या होता है। उदारण से समझायें।
उत्‍तर- जब प्रकाश की किरण विरल माध्‍यम से सघन माध्‍यम में गमन करती है तो अपवर्तन के कारण यह अभिलम्‍ब की तरफ झुक जाती है एवं जब प्रकाश की किरण किसी सघन माध्‍यम से विरल माध्‍यम में गति करती है तो यह अभिलम्‍ब से दूर हट जाती है।
उदाहरण- हीरे का चमकना, रेत का चमकना(मृग मरिचिका का बनना) , ऑप्‍टिकल फाइबर आदि।

17. विवर्तन किसे कहा जाता है।
उत्‍तर- प्रकाश की किरणों का किसी अवरोधक से टकराकर उसके छाया क्षेत्र में प्रवेश करना विवर्तन कहलाता है।

18. बहुरूपदर्शी(Kaleidoscope) का प्रयोग कहां होता है।
उत्‍तर- बहुरूपदर्शी में समतल दर्पण का प्रयोग करते हैं। इसमे तीन समतल दर्पण का प्रयोग किया जाता है। ये 60 डिग्री के कोण पर एक दूसरे से जुड़े होते हैं।

19. किसी भी वस्‍तु को दर्पण में अपना पूरा प्रतिबिंब देखने के लिए दर्पण की ऊंचाई उस वस्‍तु की ऊंचाई कि कितनी होनी चाहिए।
उत्‍तर- आधी।

20. पनडुब्‍बी में किस दर्पण का प्रयोग किया जाता है।
उत्‍तर- पनडुब्‍बी मे पेरिस्‍कोप के रूप में समतल दर्पण का उपयोग करते हैं। इसमे 2 समतल दर्पण 45 डिग्री पर लगे होते हैं।

21. दर्पण किस सिद्धांत पर कार्य करता है।
उत्‍तर- परावर्तन के सिद्धांत पर।

Light Reflection and Refraction GK
22. उत्‍तल लेंस (convex lens) क्‍या है।
उत्‍तर- ऐसा लेंस जो बीच में मोटा तथा किनारो पर पतला होता है। इसे अभिसारी लेंस भी कहते हैं। यह अनन्‍त से आने वाली प्रकाश की किरणों को सिकोड़ कर किसी एक बिन्‍दु पर मिलाता है। उत्‍तल लेंस द्वारा बना प्रतिबिंब हमेशा वास्‍तविक एवं उल्‍टा होता है।

23. अवतल लेंस(Concave lens) क्‍या होता है।
उत्‍तर- ऐसा लेंस जो बीच में पतला और किनारो पर मोटा होता है। इसे अपसारी भी कहते हैं। यह अनन्‍त से आने वाली प्रकाश की किरणों को फैला देती है। इस लेंस द्वारा बना प्रतिबिंब हमेशा आभासी एवं सीधा होता है।

24. आपतन कोण(i), परावर्तन कोण(r) तथा विचलन कोण(d) में सम्‍बन्‍ध बतायें।
उत्‍तर- आपतन कोण(i)+ परावर्तन कोण(r) + विचलन कोण(d) = 180 डिग्री

25. लेंस का सूत्र बतायें।
उत्‍तर- 1/v-1/u=1/f

Important Notes

Light Reflection and Refraction GK
1. समतल दर्पण में बना प्रतिबिंब वस्‍तु के बिंब के बराबर होता है।
2. समतल दर्पण की फोकस दूरी अनन्‍त तथा इसकी क्षमता शून्‍य होती है।
3. उत्‍तल दर्पण से बना प्रतिबिंब वस्‍तु के आकार से छोटा होता है। यह प्रकाश की किरण को फैला देती है।
4. उत्‍तल दर्पण की फोकस दूरी तथा क्षमता दोनो ही धनात्‍मक होती है।
5. अवतल दर्पण से बना प्रतिबिंब वस्‍तु के आकार से बड़ा होता है।यह प्रकाश कि किरण को सिकोड़ कर किसी एक बिन्‍दु पर मिलाती है।
6. अवतल दर्पण की फोकस दूरी तथा क्षमता दोनो ऋणात्‍मक होती है।
7. हमारी ऑंखों में उत्‍तल लेंस होता है।
8. सूक्ष्‍मदर्शी या दूरदर्शी में उत्‍तल लेंस होता है।
9. उत्‍तल लेंस की वक्रता त्रिज्‍या एवं फोकस दूरी दोनो ही धनात्‍मक होती है।
10.अवतल लेंस में वक्रता त्रिज्‍या एवं फोकस दूरी दानो ही ऋणात्‍मक होती है।

If you want to Download NCERT Book For Science you have to visit http://ncertbooks.prashanthellina.com/class_10.Science.Vigyan/CHAP%2010_H.pdf this site.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *