Human Eye

General Knowledge Questions on Human Eye Physics Part-18

GK TEST Physics

इस पोस्‍ट में हम general knowledge questions on human eye से संबंधित कुछ प्रश्‍न और उसकी व्‍याख्‍या लेकर आयें है।
मानव नेत्र एक कैमरे की भॉंति है। इसका लेंस-निकाय एक प्रकाश-सुग्राही परदे, जिसे रेटिना या दृष्टिपटल कहते हैं, पर प्रतिबिंब बनाता है। प्रकाश एक पतली झिल्‍ली से होकर नेत्र में प्रवेश करता है, इस झिल्‍ली को कॉर्निया कहते हैं। आइये अब चलते हैं इससे संबंधित प्रश्‍नों के समाधान को देखते हैं, जो लगभग किसी न किसी परीक्षा में आये हुए हैं या आने की संभावना है।

General Knowledge Questions  On Human Eye
Human Eye

General Knowledge Questions on Human Eye

1. पुतली के साइज को कौन नियंत्रित करता है।
उत्‍तर- परितारिका (Iris) । कार्निया के पीछे होता है, यह गहरा पेशीय डायफ्राम होता है जो पुतली के साइज को नियंत्रित करता है।

2. रेटिना पर किसी वस्‍तु का उल्‍टा तथा वास्‍तविक प्रतिबिंब ……………. बनाता है।
उत्‍तर- अभिनेत्र लेंस

3. प्रकाश को विद्युत सिग्‍नल में परिवर्तित करने के लिए उत्‍तरदायी है।
उत्‍तर- रेटिना

4. किसी वस्‍तु को सुस्‍पष्‍ट देखने के लिए आपको कम से कम कितनी दूरी रखनी चाहिये।
उत्‍तर- 25 सेमी

General Knowledge Questions on Human Eye
5. मोतियाबिंद(Catarect) किसे कहते हैं।
उत्‍तर- कुछ व्‍यक्तियों के नेत्र का क्रिस्‍टलीय लेंस दूधिया तथा धुँधला हो जाता है। इस स्थिति को मोतियाबिंद कहते हैं। मोतियाबिंद की शल्‍य चिकित्‍सा के बाद दृष्टि का वापस लौटना संभव होता है।

6. निकट-दृष्टि (myopia) दोष क्‍या है।
उत्‍तर- इस दोष से पीड़ीत व्‍यक्ति निकट रखी वस्‍तुओं को तो स्‍पष्‍ट देख सकता है, परंतु दूर रखी वस्‍तुओं को वह स्‍पष्‍ट नहीं देख पाता है।

7. निकट-दृष्टि दोष में प्रतिबिंब कहां बनता है।
उत्‍तर- इसमे प्रतिबिंब रेटिना पर न बनकर रेटिना के सामने बनता है। इस दोष के उत्‍पन्‍न होने के निम्‍न कारण हैं।
अभिनेत्र लेंस की वक्रता का अत्‍यधिक होना या नेत्र गोलक का लंबा हो

8. निकट-दृष्टि दोष को दूर करने के लिए किस लेंस का प्रयोग किया जाता है।
उत्‍तर- अवतल लेंस का

9. दूर-दृष्टि दोष(hypermetropia) क्‍या है।
उत्‍तर- इस दोष से पीड़‍ित व्‍यक्ति दूर की रखी वस्‍तुओं को तो स्‍पष्‍ट देख पाता है पर निकट रखी वस्‍तुओं को स्‍पष्‍ट नही देख पाता है।

10. दूर-दृष्टि दोष में प्रतिबिंब कहां बनता है।
उत्‍तर- इसमे प्रतिबिंब रेटिना के पीछे बनता है। इस दोष के उत्‍पन्‍न होने का कारण है- अभिनेत्र लेंस की फोकस दूरी का अत्‍यधिक हो जाना अथवा नेत्र गोलक का छोटा हो जाना।

11. दूर-दृष्टि दोष को दूर करने के लिए किस लेंस का प्रयोग किया जाता है।
उत्‍तर- इसे दूर करने के लिए उत्‍तल लेंस का प्रयोग किया जाता है।

General Knowledge Questions on Human Eye
12. जरा-दूरदृष्टिता क्‍या है और इसे दूर करने के लिए कौन से लेंस का प्रयोग किया जाता है।
उत्‍तर- आयु में वृद्धि होने के साथ-साथ मानव नेत्र की समंजन-क्षमता घट जाती है तथा उन्‍हें चश्‍मों के बिना कोई चीज नही दिखायी देती है। यह पक्ष्‍माभी पेशियों के धीरे-धीरे दुर्बल होने तथा क्रिस्‍टलीय लेंस के लचीलेपन में कमी आने के कारण होता है। बायफोकल लेंस से इस कमी को दूर किया जाता है।

13. समंजन क्षमता क्‍या होती है।
उत्‍तर- नेत्र की वह क्षमता जिसके कारण वह अपनी फोकस दूरी को समायोजित करके निकट तथा दूरस्‍थ वस्‍तुओं को फोकसित कर लेता है, समंजन क्षमता कहलाती है।

14. स्वस्थ आँख के लिए दूर-बिन्दु होता है –
उत्‍तर- अनन्‍त पर

15. निकट दृष्टि दोष से पीड़ित व्यक्ति का दूर बिन्दु स्थित होता है
उत्‍तर- अनन्‍त से कम दूरी पर

16. आईरिस के मध्य वाले छोटे छिद्र को कहते हैं
उत्‍तर- पुतली

17. कांचाभ द्रव उपस्थित होता है
उत्‍तर- नेत्र लेंस और रेटिना के मध्‍य

18. मानव नेत्र में रेटिना पर बनने वाला प्रतिबिम्ब………
उत्‍तर- उल्टा होता है परन्‍तु सीधा दिखाई देता है

19. दृढ़ पटल के सामने उभरे हुए पारदर्शक भाग को क्‍या कहते हैं।
उत्‍तर- कार्निया

General Knowledge Questions on Human Eye
20. मानव नेत्र का मुख्‍य भाग क्‍या-क्‍या हैं।
उत्‍तर- मानव नेत्र के मुख्य भाग हैं: कॉर्निया, आइरिस, पुपिल, सिलिअरी मांसपेशियां, नेत्र लेंस, रेटिना और ऑप्टिक तंत्रिका।

21. प्रिज्‍म में कितनी सतह होती है।
उत्‍तर- प्रिज्‍म में 5 सतह जिसमें से 2 त्रिभुजाकार और 3 आयताकार होती है। इसके 9 किनारे होते हैं।

22. प्रिज्‍म में किरण कहां मुड़ती है।
उत्‍तर- आधार की ओर

23. वर्ण स्‍पेक्‍ट्रम का माध्‍य रंग कौन सा होता है।
उत्‍तर- पीला रंग माध्‍य रंग होता है। इसे इस प्रकार आप याद रख सकते हैं-VIBGYOR (श्‍वेत प्रकाश प्रिज्‍म द्वारा 7 रंगों में विक्षेपित हो जाता है।)

24. प्राइमरी इंद्रधनुष को कैसे पहचानें।
उत्‍तर- यह बहुत चमकीला और इसका बाहरी सतह लाल होता है। इसमें दो अपवर्तन और एक पूर्ण आंतरिक परावर्तन होता है। शार्ट में (2R+1TR)

25. द्वितियक इंद्रधनुष को कैसे पहचाने।
उत्‍तर- यह कम चमकीला होता है और इसका बाहरी रंग बैंगनी होता है। इसमें दो बार अपवर्तन और दो बार पूर्ण आंतरिक परावर्तन होता है।

Some More Facts

GK Questions Answers On Genetics Biology | आनुवंशिकता Part-17
Chemistry Gk Questions on Carbon and Its Compounds Part-10
SAMANYA VIGYAN GK | सामान्‍य विज्ञान सीरिज पार्ट-1

General Knowledge Questions on Human Eye
1 .आईरिस आंखों में प्रवेश करने वाले प्रकाश की मात्रा को नियंत्रित करता है। आईरिस आंख द्वारा
प्राप्त प्रकाश की तीव्रता के अनुसार पुतली के आकार को स्वचालित रूप से समायोजित करता है।

2. जब प्रकाश अत्‍यधिक चमकीला होता है तो परितारिका सिकुड़ कर पुतली को छोटा बना देती है जिससे ऑंख में कम प्रकाश प्रवेश कर सके। परंतु जब प्रकाश मंद होता है तो परितारिका फैलक पुतली को बड़ा बना देती है जिससे ऑंख में अधिक प्रकाश प्रवेश कर सके।

3. जब हम तेज रोशनी से कमरे मे प्रवेश करते हैं तो हमें कुछ नही दिखायी देता उस समय ये Rods जो है वो हमे रोशनी प्रदान करते हैं जबकि जब हम तेज रोशनी में जाते है तब भी हमे नही दिखायी देता उसके लिए Cones हमे रंग दृष्टि प्रदान करते हैं और अधिक प्रकाश में काम करते हैं, जबकि शलाकाएँ(Rods) कम रोशनी में देखने में सक्षम होते हैं और रात्रि दृष्टि प्रदान करते हैं लेकिन उनमें रंग देखने की क्षमता बहुत कम होती है।

To know more About Human Eye you can visit
https://www.jagranjosh.com/general-knowledge/gk-questions-and-answers-on-human-eye-1497513233-1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *